पूर्व भारतीय क्रिकेटर सुरेश रैना को अक्सर विश्व क्रिकेट के इतिहास में सबसे महान फील्डर में से एक माना जाता है। बाएं हाथ के मध्य क्रम के बल्लेबाज सुरेश रैना ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायरमेंट का फैसला दो साल पहले 15 अगस्त 2020 को लिया था, जिस दिन उनके करीबी दोस्त और कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धोनी ने भी संन्यास का ऐलान किया था।

सुरेश रैना की लव स्टोरी भी काफी फिल्मी है। उन्होंने प्रियंका को प्रपोज करने के लिए करीब 40 घंटे का लंबा सफर तय किया था। यह बात उन्होंने खुद एक टीवी शो में बताई थी। रैना ने इस दौरान कहा, ‘साल 2015 में वर्ल्ड कप के दौरान वह ऑस्ट्रेलिया में थे। प्रियंका ने उन्हें बुलाया और वह इंग्लैंड को रवाना हो गए। प्रियंका ने ही मिलने की इच्छा जाहिर की थी। इस दौरान मुझे करीब 40 घंटे का लंबा सफर तय करना पड़ा।’ उन्होंने बताया कि वह अपने साथ एक अंगूठी भी ले गए थे और प्रियंका को उसे पहनाकर प्रपोज किया।

सुरेश रैना और प्रियंका की शादी साल 2015 में ही हुई थी। रैना ने 2015 में ऑस्ट्रेलिया में वर्ल्ड कप से लौटने के बाद प्रियंका से शादी की थी। रैना के एक बेटा रियो और एक बेटी ग्रेसिया है। ग्रेसिया के नाम पर ही रैना एक चैरिटी फाउंडेशन भी चलाते हैं। प्रियंका शादी से पहले तक नीदरलैंड में बैंकिंग सेक्टर में काम करती थीं। रैना की बेटी ग्रेसिया 6 साल की है, जबकि बेटे रियो की उम्र महज 2 साल है।

35 साल के रैना ने भारत के लिए 300 से ज्यादा मैच खेले। हालांकि इस दौरान वह ज्यादातर सीमित ओवरों के फॉर्मेट में ही नजर आए। रैना ने 18 टेस्ट मैचों में एक शतक और 7 अर्धशतकों की मदद से कुल 768 रन बनाए। इसके अलावा वनडे में उन्होंने 226 मुकाबलों में 5615 रन बनाए जिसमें 5 शतक और 36 अर्धशतक शामिल रहे। उन्होंने भारत के लिए 78 टी20 मैच खेले और 1 शतक भी जमाया। उन्होंने इस सबसे छोटे फॉर्मेट में 1605 रन बनाए और 13 विकेट भी लिए।

सुरेश रैना का जन्म 27 नवंबर 1986 को गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश में हुआ था। इनके पिता त्रिलोक चंद, एक सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी थे। सुरेश रैना के पिता कश्मीरी पंडित समुदाय के सदस्य, मूल रूप से जम्मू-कश्मीर में रेनवारी से हैं, जबकि उनकी मां परवेश रैना धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश से है। उनके तीन बड़े भाई दिनेश रैना, नरेश रैना और मुकेश रैना और एक बड़ी बहन रेणू हैं। दिनेश, जो सुरेश की तुलना में आठ साल बड़े है, एक स्कूल शिक्षक है।

वर्ष 2000 में 14 साल की उम्र में, सुरेश रैना ने क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित करने का फैसला किया और सरकारी कॉलेज, गुरु गोबिंद सिंह स्पोर्ट्स कॉलेज में भाग लेने के लिए लखनऊ चले गए। जिसके बाद वर्ष 2002 में वह उत्तर प्रदेश अंडर -16 टीम के कप्तान बने और अपनी प्रतिभा से राष्ट्रीय चयनकर्ताओं का ध्यान आकर्षित किया। जिन्होंने 15 साल के लड़के को इंग्लैंड के लिए U-19 टीम में नामित किया।

दरअसल रैना की पत्नी प्रियंका तेजपाल चौधरी की बेटी हैं, जो सुरेश रैना के पहले कोच रह चुके थे। बता दे कि मुरादनगर में जन्मे तेजपाल ने गाजियाबाद में कई खिलाड़ियों को ट्रेनिंग दी थी। सुरेश और प्रियंका मुरादनगर में पड़ोसी थे और दोनों के परिवार एक-दूसरे को बहुत अच्छे से जानते थे। दरअसल प्रियंका शादी से पहले तक नीदरलैंड में बैंकिंग सेक्टर में काम करती थीं।

बचपन में एक-दूसरे को अच्छे से जानने वाले यह कपल बड़े होकर बिछड़ गए। दरअसल रैना टीम इंडिया के लिए खेलने लगे, तो प्रियंका नीदरलैंड में बैंकिंग सेक्टर में जॉब करने लगीं। हालांकि इसी बीच दोनों के बीच फिर संपर्क हुआ। दोनों की फोन पर बातें हुईं और फिर बात शादी तक पहुंच गई और साल 2015 में दोनों में शादी कर ली।

वर्ष 2012 में सुरेश रैना ने पाकिस्तान टीम को लेकर एक ट्वीट किया था। सुरेश रैना ने पाकिस्तान को श्रीलंका के साथ खेला गया सेमीफइनल में मिली हार के बाद बाहर होने के बाद अपने ट्वीट में लिखा कि ”एक दो दिन लेट गए घर !!! वह भी बेशरम की तरह गए…बाय बाय पाकिस्तान !!!!.” लेकिन बाद में उन्होंनें यह डिलीट कर दिया था। जिसके बाद उन्होंने सफाई दी थी कि उनके भतीजे ने गलती से उनके ट्वीटर से कर दिया था।

सुरेश रैना खेल के सभी तीन प्रारूपों में शतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज हैं। वह आईपीएल में 4540 रनों के साथ शीर्ष रन स्कोरर हैं और लगातार आईपीएल सत्रों में 400 रन से अधिक रन बनाने वाले एकमात्र खिलाड़ी हैं। सितंबर 2015 में, सुरेश रैना ने फिल्म ‘मेरुथिया गैंगस्टर’ से बॉलीवुड गीत ‘तु मिली सब मिल’ को अपनी आवाज़ दी. जनवरी 2018 में, उन्होंने अपनी पत्नी के रेडियो शो ‘प्रियंका रैना शो’ की ओर से लड़कियों के लिए समर्थन को बढ़ावा देने के लिए ‘बिटीया रानी’ गीत गाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *